अगर चाहिए कम समय में ढ़ेर सारा पैसा तो राज़ छिपा है आपके घर के कैलेंडर में

अगर चाहिए कम समय में ढ़ेर सारा पैसा तो राज़ छिपा है आपके घर के कैलेंडर में , अधिकतर लोग अपने बुरे समय में परेशान होकर तमाम तरह के बड़े उपाय करते है और उम्मीद के मुताबिक फल नहीं मिलता. बड़े- बड़े उपायों के बीच आप अपने घर के एक छोटे से वास्तुदोष को भूल जाते है, जिस कारण आप लगातार परेशान रहते हैं. वो वास्तुदोष है आपके घर का कैलेंडर. चौकिएं मत आपके घर के एक कोने में टंगा यह छोटा सा कैलेंडर भी आपके अच्छे समय को बदलने का दम रखता है.

यदि आप पूर्व दिशा की ओर कैलेंडर लगाएंगे तो इससे आपके जीवन में उन्नति होगी. कैलेंडर पर उगते सूरज की तस्वीर हो. उत्तर दिशा में वही कैलेंडर लगाएं, जिस पर हरियाली, नदी, समुद्र, विवाह आदि की तस्वीर हो. इस दिशा में लगने वाले कैलेंडर पर हरा व सफेद रंग अधिक होना चाहिए.

पश्चिम दिशा को बहाव की दिशा माना जाता है. इस दिशा में कैलेंडर लगाने से आपके रुके हुए काम शुरू हो जाएंगे. दक्षिण दिशा में कैलेंडर लगाने से तरक्की रुक जाती है, क्योकि यह कैलेंडर समय का सूचक है. इस दिशा में कैलेंडर लगाना से घर के मुखिया की सेहत पर भी बुरा असर पड़ता है.

वास्तु की मानें तो पुराने कैलेंडर को घर में नहीं रखना चाहिए. अधिकतर लोग पुराने कैलेंडर की जगह नया कैलेंडर लगा तो लेते है, लेकिन पुराने कैलेंडर को घर से बाहर नहीं रखते. पुराना कैलेंडर आपकी उन्नति के मौकों को कम कर देता है. मुख्य दरवाजे के सामने कैलेंडर ना लगाएं, क्योंकि दरवाजे से गुजरने वाले ऊर्जा प्रभावित होती है.

कैलेंडर लगाने से शायद ही कोई दिशा की तरफ ध्यान देता है, जबकि कैलेंडर हमेशा उत्तर, पश्चिम या पूर्व की दीवार पर ही लगाना चाहिए. कैलेंडर में फोटो किसी हिंसक जानवर की ना हों और ना ही किसी उदास चेहरे की. इनसे घर में नकारात्मकता हावी हो जाती है.

Leave a Reply

%d bloggers like this: