फिल्म ‘शोले’ के इस सीन को शूट करने में लगे 3 साल, जानिए क्या है राज़…

40 साल पुरानी 1975 में आई डायरेक्टर रमेश सिप्पी की फिल्म ‘शोले’ आज भी दर्शकों के मन को खुश कर देती है। लेकिन इस फिल्म से जुड़ी हम आपको ऐसी दिलचस्प बात बताएंगे जो शायद ही आपने ना सुनी हो। जी हां इस फिल्म में एक सीन ऐसा था जिसको शूट करने में 3 साल लग गए थे।

आप सोच रहे होंगे कि फिल्म को बनाने में 3 साल लगते हैं लेकिन एक सीन के शूट में 3 साल कैसे लग गए? यह बात हम नहीं ब्लकि महानायक अमिताभ बच्चन का कहना है। आपको बता दें कि अमिताभ बच्चन हाल ही में मुंबई यूनिवर्सिटी से जुड़े कार्यक्रम में गए थे जहां उन्होंने फिल्म ‘शोले’ से जुड़ी यह दिलचस्प बात बताई थी।



इसलिए लगे थे शूट करने में 3 साल-

Related Top posts:-  मुफ्त एलपीजी कनेक्शन के लिए परिवारों को देना होगा आधार नंबर, जानिये पूरा तरीका। 

बिग बी ने बताया कि, शोले का एक सीन ऐसा था, जिसमें जया जी घर के पहली मंजिल पर लालटेन जला रही हैं और मैं नीचे माउथ ऑर्गन बजा रहा हूं। इस सीन को शूट करने के लिए रमेश जी ने 3 साल लिए, क्योंकि हर बार कुछ न कुछ हो जाता था। जिस प्रकार की लाइट की जरुरत इस सीन के लिए चाहिए होती थी वह नहीं मिल पाती थी क्यूंकि सूरज ढल जाता था।

उन्होंने बताया कि उस समय रमेश जी ने कहा था कि जब तक मुझे वह प्रॉपर लाइट नहीं मिलेगी तब तक मैं यह सीन शूट नहीं करूंगा। इसिलए हमें इस सीन को शूट करने में 3 साल का वक्त लग गया। आपको बता दें कि, अमिताभ रमेश सिप्पी के निर्देशन में शुरू हो रही फिल्म अकेडमी स्कूल के लॉन्च पर पहुंचे थे।

Related Top posts:-  Raees v/s Kaabil day by day box office collections [full comparison]

इस मौके पर बोलते हुए अमिताभ ने कहा कि, रमेश जी इस अकेडमी का नेतृत्व कर रहे हैं। रमेश जी काफी धैर्यवान हैं। वे न सिर्फ अच्छे फिल्म निर्देशक हैं बल्कि एक अच्छे सलाहकार और मार्गदर्शक भी हैं। उनके जैसे व्यक्ति का इस अकेडमी को साथ मिलना बड़ी बात है।

(Visited 1 times, 1 visits today)

Have a Query? Ask Here, we will get back to you!